योग निद्रा (Yoga Nidra) एक ऐसी युक्ति है जिससे आप बिना सोए आराम की स्थिति का अनुभव कर सकते है तथा इसके साथ ही अपने इर्द–गिर्द के बारे में जागरूक रहते है। ये आपको संचित तनाव से छुटकारा पाने में ज्यादा प्रभावी होता है। योग निद्रा आपको मस्तिष्क के पैरासिम्पेथेटिक नेटवर्क से जुड़ने में सहायता करता है जहां शरीर तथा दिमाग आराम तथा सुव्यवस्थित रखने में सहायता करता है। योग निद्रा शरीर के हर एक हिस्से से तनाव मुक्त करने में सहायता करता है, मस्तिष्क को शांत करता है और बेहतर नींद में सहायता करता है। योग निद्रा मनुष्य  को स्वस्थ, तरोताजा रखता है और इस तकनीक का नित अभ्यास करने के बाद मनुष्य पुराने दर्द, चिंता के मुद्दों तथा ऐसी अन्य मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से भी आराम पाता है।

योग निद्रा कैसे और कहा करे?

आप योग निद्रा का अभ्यास चटाई या बिस्तर पर लेटकर कर सकते है। आप योग निद्रा का अभ्यास करने के लिए यूट्यूब पर निर्देशित विश्राम तकनीकों के माध्यम से सहायता ले सकते है। योग निद्रा के अभ्यास के दौरान प्रत्येक सांस के साथ मनुष्य के तनाव दूर हो जाते है तथा इंद्रियों में एक नई ऊर्जा का संचार भी होता है। योग निद्रा का अभ्यास नकारात्मक विचारों और स्थितियों से छुटकारा पाने में भी सहायता करता है।

योग निद्रा के कुछ अति उपयोगी लाभ (Benefits of Yoga Nidra)

तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करने में निपुण

योग निद्रा तंत्रिका तंत्र का इस्तेमाल करने में अत्यधिक प्रभावी है। स्वायत्त तंत्रिका तंत्र हृदय की धड़कन, श्वास, पाचन तथा रक्त प्रवाह के साथ साथ शारीरिक कार्यों को भी नियंत्रित करता है जो स्वचालित रूप से होते हैं। योग निद्रा से चिंता कम होती है। वैज्ञानिकों के अध्ययनों से पता चला है कि चिंता के संज्ञानात्मक तथा शारीरिक दोनों लक्षणों को कम करने के लिए योग निद्रा एक अति सहायक विधि है।

नींद की बेहतर गुणवत्ता

योग निद्रा एक प्रकार से आरामदायक नींद तथा विश्राम को प्रोत्साहित करता है। तंत्रिका तंत्र को आराम देने तथा कम तनाव तथा बेहतर स्वास्थ्य को प्रोत्साहन देने के लिए, व्यक्ति अकेले शरीर स्कैन और सांस जागरूकता के चरणों का भी अभ्यास कर सकता है।

खुद से जुड़ने में सहायता

योग निद्रा आपको इस बात पर विचार करने का अवसर देता है कि आपको अभी क्या चाहिए तथा काफी लंबे समय से दबी हुई भावनाओं को दूर करने पर ध्यान केंद्रित करने में भी सहायता करता है। योग निद्रा सत्र के दौरान आप एक भावना का अनुभव कर सकते हैं तथा उस चीज़ का 'सामना' कर सकते हैं जिस पर आप नियंत्रण पाना चाहते हैं। जैसे-जैसे आप योग निद्रा के अभ्यास में आगे बढ़ते हैं, आप भावनाओं तथा संबंधित संवेदनाओं का अनुभव करना चालू कर देते है।

ध्यान में वृद्धि

योग निद्रा का मन पर आरामदायक प्रभाव एकाग्रता तथा ध्यान को केंद्रित करने में सक्षम बनाता है। यह शिक्षार्थियों या अपने जीवन में उत्पादकता बढ़ाने की चाहत रखने वाले व्यक्तियों के लिए एक अच्छी आदत बनाता है।

दर्द से छुटकारा

जिन लोगों को कोई भी पुराना दर्द है उनके लिए योग निद्रा एक अति उपयोगी उपचार साबित हो सकता है। इस तथ्य का कारण यह है कि ये मानसिक और शारीरिक विश्राम दोनों का ही समर्थन करता है।

तनाव को नष्ट करता है

ज्यादातर लोगों को तनाव और चिड़चिड़ेपन की परेशानी रहती हैं। शरीर, मन तथा भावनाओं में सक्रिय  इस तनाव के कारण व्यक्ति मनोवैज्ञानिक तथा मनोदैहिक उलझनों के प्रति अधिक संवेदनशील होता है। योग निद्रा के कई मानसिक और शारीरिक लाभ भी है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि

योग निद्रा के विश्राम-उत्प्रेरण प्रभाव मनुष्य के तनाव के स्तर को कम करने में उपयोगी हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को अत्यधिक मजबूत करने में सहायता करता है।

आध्यात्मिक संबंध में उपयोगी

मनुष्य योग निद्रा के अभ्यास के माध्यम से विश्राम की गहरी अवस्था प्राप्त कर सकते हैं, अपने आंतरिक ज्ञान तक पहुंच सकते हैं तथा सीमित दृष्टिकोण और व्यवहार को परिवर्तित कर सकते हैं।

योग और निद्रा में उपयोग करे Sleepsia नेक रिलीफ पिलो

कंधे, गर्दन और पीठ की शिकायत वाले व्यक्ति Sleepsia के पेन रिलीफ तकिया का उपयोग कर के अपने कंधे तथा गर्दन के दर्द से मुक्ति पा सकते है, स्लीपसिया का पेन रिलीफ तकिया खास इस प्रकार के लोगो के लिए डिजाइन किया गया है। PAIN RELIEF PILLOW पीठ के बल सोने वाले व्यक्तियों के लिए अति लाभकारी है।